16 C
New York
Monday, September 26, 2022

Badam Khane Ke Fayde | बादाम खाने के फायदे

Badam Khane Ke Fayde: सूखे मेवों में बादाम को राजा माना जाता है । यह प्रकृति प्रदत्त का का उत्तम स्रोत है और बादाम के फायदे भी काफी हैं क्योंकि इसे उच्च श्रेणी का खाध माना जाता है । यह कैलोरी , प्रोटीन , विटामिन ए , बी काम्पलेक्स , ई . फोलिक एसिड , कैल्शियम , फास्फोरस , जिंक , कापर फाइबर , मैगनीशियम पोटाशियम अनेक न्यूट्रिएंटस से भरपूर है ।

Badam Khane Ke Fayde | बादाम खाने के फायदे क्या क्या है

Badam Khane Ke Fayde

Image By Pixabay

इसमें सेचुरेटिड वसा अधिक होती है जो हमारे शरीर के लिए लाभप्रद मानी जाती है । बादाम के नियमित सेवन से मस्तिष्क के स्नायु चुस्त बने रहते है और शरीर में यह एन्टी आक्सीडेन्ट का काम करता है ।

बादाम बच्चों , जवान और बने के लिए उत्तम खाद्य पदार्थ है । बादाम उच्च कैलोरी खाद्य होने के कारण शरीर की आपातकालीन ऊर्जा की आवश्यकता को पूरा करते हैं । वैसे तो यह सभी उम्र के लिए लाभदायक है पर बढ़ते बच्चों के लिए यह बोहोत कारगर है ।

बादाम में निहित प्रोटीन की तुलना सोयाबीन से की जाती है इसलिए यह बढ़ते बच्चों के शारीरिक विकास और मानसिक शक्ति के लिए बहुत उचित होता है ।

बच्चों को शहद में भीगे बादाम दिए जा सकते हैं जो बच्चों में रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाने में मदद करते हैं जयां आदमी के लिए नियमित बादाम का सेवन उसकी मांसपेशियों को सुदृढ़ बनाता है और शारीरिक सहनशक्ति को भी बढ़ाता है ।

कुछ ये भी हैं बादाम खाने के फायदे | Kuch Or Badam Khane Ke Fayde

प्राचीन काल से ही पहलवान और खिलाड़ियों को बादाम खिलाया जाता रहा है । बादाम हृदय रोगियों को आरटरीज को स्वस्थ रखता है । यह एलडीएल को कम कर एचडीएल को बढ़ाता है । बादाम का फाइयर घुलनशील होने के कारण कोलेस्ट्रोल को कम करता है ।

बादाम में निहित कैल्शियम और मैग्नीशियम हदय की धड़कन को नियन्त्रित कर हमारे कार्डियोवास्कुलर सिस्टम को स्वस्थ रखने में सहायक होता है ।

बादाम रोगन त्वचा तथा बालों के लिए उत्तम टॉनिक होता है । इसके नियमित प्रयोग से बाल काले और चमकदार रहते हैं तथा त्वचा में निखार आता है ।

बादाम को कैसे और कितनी मात्रा में खाना चाहिए

  • बादाम को छिलके के साथ खाने से कब्ज होती है और छिलका उतार कर खाने से कब्ज दूर होती है । पुरानी कब्ज होने पर गर्म दूध में थोड़ा बादाम रोगन मिला कर पीना चाहिए ।
  • बादाम में उचित आयरन होने के कारण यह मस्तिष्क और शरीर के अन्य अंगों में रक्त संचार को बढ़ाता है , जिससे बुढ़ापे में कई रोग दूर रहते हैं । रात को सोते समय चार छिलका उतरे बादाम , काली मिर्च और शहद का सर्दियों में नियमित सेवन करने से सर्दी के कई रोगों से लड़ने की शक्ति मिलती है ।
  • बादाम के नियमित सेवन से मस्तिष्क में रक्त संचार सुचारू रूप से कार्य करता है । बादाम का कैल्शियम दिमागी नसों को सहनशील बनाता है । इसमें निहित विटामिन बी -1 , बी -12 , और ई मस्तिष्क की कोशिकाओं और नायु तंत्र को शक्ति प्रदान करता है ।
  • बादाम उच्च कैलोरी खाद्य होने के कारण इसका प्रयोग सीमित मात्रा में ही करना चाहिए । बहुत अधिक सेवन नुकसान भी पहुंचा सकता है।
  • बादाम का छिलका उतार कर ही लेना चाहिए । बादाम खाने से पहले इसे पानी में तीन चार घंटे भिगो कर रखना चाहिए ।
  • बादाम को अच्छी तरह चबाकर खाना चाहिए ताकि पचने में आसानी रहे ।
  • एक दिन में 10 बादाम से अधिक का सेवन नहीं करना चाहिए , वैसे प्रतिदिन 4-5 बादाम की गिरी लेना ही हितकर होता है ।
  • कड़वे बादामों का सेवन नहीं करना चाहिए । तले हुए बादाम शरीर को हानि पहुंचाते हैं ।
  • बादाम में संतुलित आहार के सभी पोषक मौजूद होते हैं इसलिए किसी ने ठीक कहा है कि ‘ प्रतिदिन चार बादाम का सेवन व्यक्ति को डाक्टर से दूर रखने में सक्षम होता है ।

भीगे हुए बादाम के फायदे | Bhige Badam Khane Ke Fayde

1. पाचन में मदद

2. वजन घटाने में मदद

3. कैंसर से लड़ता है

4. सूजन को कम करता है

5. दिल को स्वस्थ रखता है

यह भी पढ़ें।

* Sankh bajane Ke Fayde | शंख बजाने के फायदे

* कैंसर क्या है | Cancer in Hindi | कैंसर से बचाव

* बच्चो की देखभाल | Child Care in Hindi

* बेल के फायदे | Benefits of Wood Apple in Hindi

* घर के बड़ो की इज्जत करें | Respect Your Elders in Hindi

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

3,400FansLike
500FollowersFollow
- Advertisement -

Latest Articles