20.7 C
New York
Sunday, September 25, 2022

कैसे होती है सब्जियां जहरीली | Kaise hoti hai sabjiya jehrili in hindi

Kaise hoti hai sabjiya jehrili :अनेक वैज्ञानिक सर्वेक्षणों से यह स्पष्ट हो गया है , कि भारतीयों के शरीर में डी ० डी ० टी की सर्वाधिक मात्रा पाई जाती है । इन सर्वेक्षणों के दरम्यान यह भी पता चला है कि अनेक प्रकार की सब्जियों , फलों और धानों में डी डीष्टी तथा अन्य कीटनाशकों की छिलका काफी मात्रा पाई जाती है ।

डी ० डी ० टी ० एक जहर है जिसे कीटनाशकों पदार्थ के रुप में प्रयुक्त किया जाता हैं । यही जहर भारतीयों के शरीर में अत्यधिक मात्रा में पाया जाता है । सचमुच यह एक चौंका देने वाली बात है ।

Kaise hoti hai sabjiya jehrili

आजकल सब्जियों के भाव आसमान नापने लगे हैं । सब्जी- बाजार एवं सब्जी मण्डियों में हरी सब्जियों की कमी होने लगी है ।

सब्जियों के सीमित उत्पादन को बढ़ाने के लिए सब्जी उत्पादकों एवं बड़े किसानों ने अपने खेतों में विभिन्न किस्म के रासायनिक उर्वरकों का उपयोग करना शुरू कर दिया ।

प्राकृतिक खाद का प्रयोग महंगाई एवं कमी की वजह से तो गौण , किन्तु रासायनिक उर्वरकों से पैदावार में काफी इजाफा होता है । जहरीले रासायनिक उर्वरकों के प्रचुर उपयोग से उर्वर भूमि , जहरीली और भूसर होती जाती है ।

चार अथवा पांच किस्तों की पैदावार के पश्चात् जमीन की उर्वराशक्ति सीमित और क्षीण हो जाती है । जाहिर है , भूमि के जहरीले होने का प्रभाव उत्पादित सब्जियों एवं खाद्यानों पर भी होगा ।

Kaise hoti hai sabjiya jehrili
Image by Pixabay

यह भी एक कारण है जिससे हरी सब्जियां , जहरीली होती जा रही हैं । हरी साग सब्जियों एवं खाद्यान्नों के जहरीले होने का दूसरा कारण कीटनाशकों का प्रचुर उपयोग भी है ।

कीटनाशक जो जहर होते हैं , सब्जियों की पत्तियों से धीमे – धीमे रिसकर सब्जियों में उतर जाते हैं । इस प्रकार सब्जियां जहरीली हो जाती हैं । यदि कीटनाशक छिड़कने के तीन दिवस के अन्दर हरी सब्जी को खा लिया जाए तो इसके परिणाम काफी गंभीर होते हैं ।

कीटनाशक दवाइयों के प्रचुर उपयोग ने फलों और सब्जियों के मूलभूत तत्वों को समाप्त कर दिया है । संकरित साग सब्जियों एवं कीटनाशक के अधिक प्रयोग वाली सब्जियां स्वादहीन होती जा रही हैं ।

ये सब्जियां दिखने में सुन्दर एवं काफी स्वस्थ होती हैं लेकिन आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक भी होती हैं । अधिक बेहतर है इनका उपयोग करते समय निहायत सावधानी एवं सतर्कता बरती जाए जिससे उनके मारू असर से स्वयं को बचाया जा सके ।

इन खाद्य पदार्थों में मौजूद जहर को आप अकेले तो कदापि कम नहीं कर सकते लेकिन फिर भी आप कुछ सतर्कता बरतें तो आप इनके हानिकारक प्रभाव से अपने स्वास्थ्य को खतरे में पड़ने से रोक सकते हैं ।

Kaise hoti hai sabjiya jehrili in hindi

आपको करना सिर्फ यह होगा कि फलों , सब्जियों एवं धानों को उपयोग में लाने से पूर्व कम से कम दो तीन बार पानी से अच्छी तरह धो लें । यदि एक बार सिरके अथवा खाने के सोडे ( मीठे सोडे ) से धोकर फिर स्वच्छ पानी से धो लें तो और भी बेहतर होगा ।

बंदगोभी के बाहरी पत्तों को अलग कर भीतरी परतों का ही उपयोग करें । ऐसा ही तुरई एवं अन्य सब्जियों के साथ करें । इसी प्रकार सब्जियों एवं फलों का छिलका उतारकर ही इस्तेमाल करें । इससे छिलके पर लगे कीटनाशक पदार्थ दूर हो जायेंगे ।

कीटनाशकों के व्यापक प्रयोग के चलते फलों और सब्जियों को कच्चा खाना भी स्वास्थ्य के लिए हानिकारक और खतरे से खाली नहीं है ।

छिलका उतार लेने से फल एवं सब्जियों के छिलके पर लग कीटनाशक तो दूर हो जाएंगे लेकिन जो कीटनाशक एवं जहर सब्जी के अन्दर पहुंच चुका है , वह स्वास्थ्य को हानि पहुंचाएगा ।

इसलिए सब्जियां एवं साग सदैव पकाकर ही खाएं । पकाकर खाने से अनेक कीटनाशकों का हानिकारक स्वरूप नष्ट हो जाता है । कुछ सावधानियां आपको सब्जियों के जहरीले प्रभाव से बचाए रख सकती हैं ।

* अनार के फायदे

* अनानास के फायदे और नुकसान

* खुबानी क्या है और क्या है खुबानी के फायदे

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

3,400FansLike
500FollowersFollow
- Advertisement -

Latest Articles